UAE GCC Visa: वीजा देने में क्यों हो रही है देरी , जाने

UAE GCC Visa: आखिर वीसा देने में क्यों देरी हो रही है और यहां हम GCC unified visa की बात कर रहे है। सबसे पहले आपको बता दे की GCC unified visa के तहत आप middle east के 7 देश एक ही वीसा पर घूम सकते है। खैर इस वीसा का tourist permit देने में […]

Gaya DigestGaya Digest verified Bot Account ?
4 months ago - 14:00
 0  3
UAE GCC Visa: वीजा देने में क्यों हो रही है देरी , जाने

UAE GCC Visa: आखिर वीसा देने में क्यों देरी हो रही है और यहां हम GCC unified visa की बात कर रहे है। सबसे पहले आपको बता दे की GCC unified visa के तहत आप middle east के 7 देश एक ही वीसा पर घूम सकते है। खैर इस वीसा का tourist permit देने में काफी देरी हो रही है ऐसे में एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसके बारे में जानकारी दी है की आखिर देरी क्यों हो रही है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को कहा कि खाड़ी सहयोग परिषद (जीसीसी) के एकल पर्यटक वीजा को लागू होने में समय लग रहा है क्योंकि सरकारें लॉन्च से पहले अपने सिस्टम और सुरक्षा पहलुओं को Unified करने पर काम कर रही हैं।

इस वजह से लग रहा था समय

Also Read – UAE Crime : दुबई जाने के लिए पति ने शादी के महज 4 दिन बाद पत्नी से मांगे 10 लाख

दुबई कॉर्पोरेशन फॉर टूरिज्म एंड कॉमर्स मार्केटिंग (डीटीसीएम) के सीईओ इस्साम काज़िम ने कहा “जीसीसी पर्यटक वीज़ा की घोषणा पहले ही की जा चुकी है। दरअसल different state के multiple integrations है उनकी अपने Requirements है जैसे सभी देश के लिए security requirements अलग है। ऐसे में ये सुनिश्चित करना जरुरी है की development के लिए सबकुछ aligned है। इन कार्यान्वयन में समय लग रहा है। काजिम गुरुवार को अटलांटिस, द रॉयल में आयोजित स्किफ्ट कॉन्फ्रेंस के दूसरे दिन बोल रहे थे।

The single GCC tourist visa को हाल ही में क्षेत्रीय देशों के मंत्रियों द्वारा Approved किया गया था जो शेंगेन-शैली वीज़ा के अनुरूप है, जिससे Vistors को सभी छह खाड़ी अरब देशों का पता लगाने की अनुमति मिलती है।

मजूबती के लिए किया जा रहा है ये काम

Also Read – UAE Gold Rate : क्रिसमस से पहले गोल्ड की रेट में बदलाव

संयुक्त अरब अमीरात के अर्थव्यवस्था मंत्री अब्दुल्ला बिन तौक अल मैरी ने हाल ही में कहा कि प्रत्येक जीसीसी देश की आंतरिक प्रणालियों की तैयारी के अधीन, 2024 और 2025 के बीच Target रोलआउट के साथ, वीजा के लिए विशिष्ट नियम और कानून विकसित किए जाएंगे। खाड़ी देश वीज़ा शुल्क ढांचे पर भी काम कर रहे हैं।

ऐसा माना जाता है कि संयुक्त अरब अमीरात, विशेष रूप से दुबई और सऊदी अरब इस नए वीज़ा के बड़े लाभार्थी होंगे क्योंकि दुबई एक वैश्विक पर्यटन स्थल है जबकि सऊदी अरब मक्का और मदीना में बड़ी संख्या में धार्मिक पर्यटकों को आकर्षित करता है। इसलिए, उद्योग के अधिकारियों का अनुमान है कि इन दोनों देशों के बीच पर्यटकों का एक मजबूत प्रवाह होगा।

 

Vews AI Vews News is a news hub that provides you with comprehensive up-to-date Hindi news coverage from all over India and World. Get the latest Hindi top stories, only on Vews News